सेहत – यूरिन की स्मेल को न समझें मामूली, इसमें छुपे हैं 7 घातक बीमारियों के संकेत, इग्नोर करेंगे तो पड़ेगा महंगा – INA News Agancy

हाइलाइट्स

अगर मेटाबोलिक डिसॉर्डर होने वाला होता है तो इससे पहले यूरिन से स्मेल आने लगता है.
जब ब्लड शुगर ज्यादा बनने लगे तब भी यूरिन से स्मेल आने लगता है.

What are the Reasons of Bad Smell of Your Urine: हमारी आंखें, नाखून और पेशाब हमारे शरीर के अंदर की कई बीमारियों के संकेत दे देते हैं. इसलिए जब भी आप किसी परेशानी में डॉक्टर के पास जाएंगे तो सबसे पहला सवाल इन्हीं चीजों के इर्द-गिर्द होगा. अगर पेशाब के रंग या गंध में कोई परिवर्तन है तो डॉक्टर तुरंत यूरिन टेस्ट की सलाह देते हैं. हालांकि कुछ चीजों को खाने और दवाइयां लेने के कारण भी यूरिन से बदबू आती है लेकिन जब अनायास ही यूरिन से स्मेल आने लगे तो इसे कभी भी हल्के में नहीं लेना चाहिए. क्योंकि पेशाब के स्मेल में कई बीमारियों के राज छुपे होते हैं. इसलिए यदि आपको कोई बीमारी नहीं है और आपने कोई दवा या दुर्गंधयुक्त चीजें नहीं खाई है और इस स्थिति में आपके यूरिन से स्मेल आ रहा है तो इसे मामूली न समझें. इन स्थितियों में तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें. यहां जानिए स्मेलफुल यूरिन किन-किन बीमारियों के संकेत हैं.

यूरिन स्मेल के ये हो सकते हैं संकेत

1. सिस्टीटिस – मायो क्लिनिक के मुताबिक यदि आपके यूरिन से बिना किसी कारण के स्मेल आ रहा है तो आपको सिस्टीटिस की बीमारी हो सकती है. सिस्टीटिस की बीमारी में ब्लैडर में सूजन हो जाती है. इसकी कई वजहें हो सकती है. इससे ब्लैडर में जलन भी होगी. सिस्टीटिस इंफेक्शन यानी यूटीआई की वजह से भी हो सकता है या बिना इंफेक्शन भी हो सकता है. हालांकि दोनों स्थितियों में पेशाब से गंध आती है.

2. डिहाइड्रेशन-जब आपके शरीर में पानी की कमी होगी तो भी आपका यूरिन स्मेल करेगा. जब शरीर में पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं जाएगा तो शरीर का अन्य तरल पदार्थ भी सही से काम नहीं करेगा. इस स्थिति में यूरिन से स्मेल आएगा.

3. डायबेट्स कीटोएसिडोसिस-यह डायबिटीज के मरीजों में होता है. जब डायबिटीज की बीमारी में इंसुलिन का प्रोडक्शन बहुत कम हो जाए तो डायबेट्स कीटोएसिडोसिस होने लगता है. इस स्थिति में पेशाब में बहुत तीखी गंध आती है. डायबिटीज के मरीज इसे कतई नजरअंदाज न करें.

4. गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल फिस्टुला-गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल फिस्टुला में पेट या आंत में छेद हो जाता है. इससे शरीर का कंटेंट लीक होने लगता है. यह मुख्य रूप से ब्लैडर के आसपास होता है. यह बेहद खतरनाक बीमारी है. इस बीमारी का लक्षण पेशाब से गंध आना भी है. इसलिए अगर यूरिन से स्मेल आए तो गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल फिस्टुला के भी संकेत हो सकते हैं.

5. मेपल सिरप यूरिन डिजीज-मेपल सिरप यूरिन डिजीज दुर्लभ आनुवांशिक बीमारी है जो शैशवावस्था में जाकर उजागर होने लगता है. जब यह बीमारी ज्यादा परेशान करने लगती है तब आपके यूरिन से स्मेल आने लग सकता है.

6. मेटाबोलिक डिसॉर्डर-यह भी दुर्लभ बीमारी है. मेटाबोलिक डिसॉर्डर में जब हम भोजन करते हैं और उससे जो एनर्जी बनती है, उसे बनाने के तरीके में परिवर्तन आने लगता है. अगर मेटाबोलिक डिसॉर्डर होने वाला होता है तो इससे पहले यूरिन से स्मेल आने लगता है.

7. टाइप 2 डायबिटीज-जब ब्लड शुगर ज्यादा बनने लगे तब भी यूरिन से स्मेल आने लगता है. यह डायबिटीज आउट ऑफ कंट्रोल की स्थिति में होता है.

इसे भी पढ़ें-ये लीजिए, महिला और पुरुष में अलग-अलग होते हैं कार्डिएक अरेस्ट के लक्षण, इस तरह रहेंगे चौकन्ना तो एक दिन पहले चल जाएगा पता

इसे भी पढ़ें-इस अधिकारी के जुनून को सलाम, नौकरी करते हुए घटाया 23 किलो वजन, करते हैं सिर्फ 5 काम, समझिए स्टेप बाय स्टेप